UP.STF : जनपद रायगढ़ (महाराष्ट्र) मुम्बई में हुई हत्या की घटना में शामिल 02 वांछित अभियुक्तों को जनपद आजमगढ़ से किया गया गिरफ्तार।

(संपादक गोपाल चंद्र अग्रवाल)

स्पेशल टास्क फोर्स, उत्तर प्रदेश, लखनऊ। प्रेस नोट संख्याः 264, दिनांक 05-08-2022

आज दिनांक 05-08-2022 को एस0टी0एफ0, उ0प्र0 व जनपद रायगढ (महाराष्ट्र) पुलिस के संयुक्त टीम द्वारा रायगढ़ (महाराष्ट्र) में हत्या की घटना में शामिल/फरार चल रहे अभियुक्त अमन सिंह व दिलीप शुक्ला को जनपद आजमगढ़ से गिरफ्तार करने में उल्लेखऩीय सफलता प्राप्त हुई।

गिरफ्तार अभियुक्तों का विवरणः

1- अमन सिंह पुत्र दयाशंकर सिंह निवासी खेमीपुर थाना पवई जनपद आजमगढ । .2- दिलीप शुक्ला पुत्र प्रेमराज शुक्ला निवासी खेमीपुर थाना पवई जनपद आजमगढ ।

गिरफ्तारी का स्थान/समयः

ग्राम खेमीपुर थाना पवई जनपद आजमगढ। दिनांक 05-08-2022 समय- रात्रि 01.10 बजे ।

दिनांक 28-07-2022 को जनपद रायगढ़ (महाराष्ट्र) के थाना नवीन पनवेल क्षेत्रान्तर्गत जंगल में बुरी तरह से जला हुआ एक शव मिला था। इस संबंध में थाना नवीन पनवेल पर मु0अ0सं0 170/2022 धारा 302/201 आई0पी0सी0 बनाम अज्ञात पंजीकृत हुआ था। स्थानीय पुलिस की विवेचना से शव की शिनाख्त प्रवीण शान्ताराम सेलार पुत्र शान्ताराम निवासी उषावली गांव थाना नवीन पनवेल जनपद रायगढ़ (महाराष्ट्र) के रूप में हुई थी तथा उक्त हत्याकाण्ड में नरेश के साथ-साथ अमन सिंह एवं दिलीप शुक्ला निवासी खेमीपुर थाना पवई जनपद आजमगढ के शामिल होने की बात प्रकाश में आयी, जो घटना के बाद से ही फरार चल रहे थे। उक्त दोनों अभियुक्तों के जनपद आजमगढ़ में छिपे होने की सूचना प्राप्त होने पर रायगढ़ पुलिस द्वारा अभिसूचना को साझा करते हुए एस0टी0एफ0 उ0प्र0 से आवष्यक सहयोग मांगा गया था। इस सम्बन्ध में एस0टी0एफ0 फील्ड इकाई वाराणसी से उप निरीक्षक ज्ञानेन्द सिंह एवं उप निरीक्षक श्री शहजादा खॉं के नेतृत्व में एस0टी0एफ0 टीम व रायगढ़ पुलिस टीम द्वारा जनपद आजमगढ़ में अभिसूचना संकलन की कार्यवाही की जा रही थी, कि अभिसूचना संकलन के दौरान विष्वस्त सूत्र से प्राप्त सूचना के आधार पर आज दिनांक 05-08-2022 को उक्त मुकदमें के अभियुक्त अमन सिंह एवं दिलीप शुक्ला को जनपद आजमगढ़ के थाना पवई क्षेत्रान्तर्गत खेमीपुर से गिरफ्तार किया गया।

अभिसूचना संकलन, पुलिस विवेचना एवं पूछताछ से पाया गया कि प्रवीण शान्ताराम सेलार (मृतक) की शादी नही हुई थी। प्रवीण शान्ताराम के परिचित नरेश ने शादी कराने के नाम पर 40 हजार रूपये लिये थे, परन्तु पैसा लेने के उपरान्त भी शादी न कराने पर प्रवीण शान्ता राम अपने 40 हजार रूपये वापस मॉंगने लगा। इस पर नरेश ने अपने साथ काम करने वाले अमन सिंह व दिलीप शुक्ला उपरोक्त से सम्पर्क किया और तीनों ने मिलकर प्रवीण शान्ताराम की हत्या करने की योजना बनायी। योजना के तहत दिनांक 25-07-2022 को प्रवीण शान्ता राम को पैसा वापस करने के नाम बुलाये तथा तीनों ने मिलकर थाना नवीन पनवेल क्षेत्रान्तर्गत जंगल में ले जाकर प्रवीण उपरोक्त की हत्या कर दिये तथा शव की पहचान न हो सके इसलिये शव को पेट्रोल छिड़क कर जलाने का प्रयास किया गया था। उक्त घटना में स्थानीय पुलिस द्वारा दिनांक 03-08-2022 को अभियुक्त नरेश को गिरफ्तार किया जा चुका है तथा अभियुक्त अमन सिंह एवं दिलीप शुक्ला को आज गिरफ्तार कर लिया गया।

थाना नवीन पनवेल पर पंजीकृत मु0अ0सं0 170/22 धारा 302/201 आई0पी0सी0 में गिरफ्तार उक्त दोनों अभियुक्तों को थाना पवई, जनपद आजमगढ में दाखिल करते हुये मा0 न्यायालय आजमगढ़ के समक्ष प्रस्तुत कर ट्रांजिट रिमाण्ड प्राप्त करने की विधिक कार्यवाही तथा मामले की समस्त अग्रिम कार्यवाही नवीं मुम्बई (महाराष्ट्र) पुलिस द्वारा की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: