Breilly News : बरेली मंडल में 5500 करोड़ का निवेश करेंगे उद्यमी, बरसेंगे रोजगार

बरेली मंडल में 5500 करोड़ का निवेश करेंगे उद्यमी, बरसेंगे रोजगार

चारों जिलों के उद्यमियों ने 2952 करोड़ का निवेश करने पर दी सहमति

बायोफ्यूल सोलर पावर, फूड प्रोसेसिंग, एमएसएमई, सर्विस सेक्टर, टेक्सटाइल, टूरिज्म इंडस्ट्री में होगा निवेश

मुख्यमंत्री के निर्देश पर कमिश्नर ने बरेली के उद्यमियों के साथ बैठक कर दिए निर्देश

उद्यमियों की सहायता के लिए सभी जिलों में बनेगी डेडिकेटेड हेल्पडेस्क

30 दिसंबर, बरेली। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर यूपी वन ट्रिलियन इकोनामी बनने जा रहा है। इसको लेकर सभी जिलों में उद्योगों को लगाने, ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के जरिए उद्योगों को स्थापित करने की कवायद तेजी से शुरू हो गई है। बरेली मंडल में उद्यमी 5500 करोड़ का निवेश करेंगे। 2952 करोड़ का निवेश करने के लिए उद्यमियों ने अपनी सहमति भी दे दी है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर कमिश्नर संयुक्ता समद्दार ने शुक्रवार को इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन, लघु उद्योग भारती, चेंबर ऑफ कॉमर्स से जुड़े उद्यमियों के साथ बैठक की।

जिन उद्योगपतियों ने निवेश करने पर सहमति व्यक्त की। उनसे एमओयू साइन कराया गया है। कमिश्नर ने बरेली को 3000 करोड़, शाहजहांपुर को 500 करोड़, पीलीभीत और बदायूं को एक – एक हजार करोड़ का निवेश टारगेट पूरा कराने के निर्देश दिए हैं। निवेश सारथी पोर्टल के जरिए बरेली में उद्यमियों ने 1426 करोड़, बदायूं में 516 करोड़ और पीलीभीत में 558 करोड़, शाहजहांपुर में 450 करोड़ का निवेश करने पर अपनी सहमति दी है।

इन प्रोजेक्ट में मिलेगी भारी सब्सिडी, उद्योग विभाग करेगा हेल्प

नया उद्योग लगाने के लिए अब उद्यमी को इधर-उधर भटकना नहीं पड़ेगा। उनके लिए उद्योग विभाग हेल्पडेस्क लगा रहा है। प्रोजेक्ट बनाने से लेकर लोन दिलाने तक हर कदम पर उनकी सहायता की जाएगी। स्टांप ड्यूटी से लेकर लोन तक उन्हें भारी सब्सिडी मिलेगी। कमिश्नर संयुक्ता समद्दार ने बताया कि ग्रीन फील्ड प्रोजेक्ट के लिए 472, ब्राउनफील्ड प्रोजेक्ट के लिए 106 प्रस्ताव मिले हैं। इसमें बायोफ्यूल सोलर पावर के लिए 10 प्रस्ताव, फूड प्रोसेसिंग के 160, एमएसएमई 370, सर्विस सेक्टर 71, टेक्सटाइल और टूरिज्म के 28 प्रस्ताव मिले हैं। उद्योगपतियों से 2022 की उत्तर प्रदेश की पर्यटन नीति, टेक्सटाइल नीति, बायोफ्यूल सोलर पावर नीति, उद्योग निवेश प्रोत्साहन नीति, रोजगार नीति पर विस्तार से चर्चा की गई। बैठक में बैंक से जुड़े अधिकारियों को भी बुलाया गया था। उन्हें स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि उद्यमियों को लोन में किसी भी तरह की समस्या नहीं आनी चाहिए।

18 जनवरी को बरेली में होगी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट

लखनऊ में 10 से 12 फरवरी को पूरे प्रदेश की ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट होने जा रही है। सभी जिलों में इसकी जोरों से तैयारियां चल रही हैं। हर जिले से अलग अलग सेक्टर में इंडस्ट्री लगाने के प्रस्ताव प्रशासन को मिले हैं। कई उद्योगपतियों से एमओयू भी साइन हो चुके हैं। बरेली में इसको लेकर 18 जनवरी को ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट होगी। बरेली के उद्यमियों से 3000 करोड़ निवेश कराने की तैयारी है। इसको लेकर मंडलीय उद्योग बंध, ऑनलाइन क्लीयरेंस सिस्टम लागू किया गया है। जिससे किसी भी आदमी को अपना उद्यम स्थापित करने में कोई समस्या नहीं होने दी जाएगी।

हथकरघा से जुड़े आठ उद्यमियों ने निवेश को भरी हामी

सहायक आयुक्त, हथकरघा द्वारा बताया गया कि मण्डल में अब तक कुल 08 इकाईयों की स्थापना/एक्सपेंशन के कुल 26 करोड़ निवेश के प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं। आयुक्त महोदया द्वारा सहायक आयुक्त हथकरघा को मण्डल के सभी जनपदों विशेषकर शाहजहांपुर, बदायूं तथा पीलीभीत में बुनकरों तथा पावरलूम सेक्टर में कार्यरत लोगों से अलग अलग वार्ता करने तथा उन्हें गारमेन्टिंग नीति में सरकार द्वारा दिये जा रहे अनुदान लाभों से अवगत कराते हुए अधिक से अधिक निवेश प्रस्ताव भरवाये जाने के निर्देश दिये गये।

869 करोड से पर्यटन के क्षेत्र में होगा निवेश

क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी द्वारा बताया गया कि मण्डल में कुल 869 करोड़ के पर्यटन क्षेत्र में निवेश का लक्ष्य प्राप्त हुआ था तथा अब तक कुल 9 पर्यटन इकाईयों के प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं।

आयुक्त महोदया द्वारा क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी को मण्डल के बरेली तथा पीलीभीत जनपदों में पर्यटन की विशेष संभावनाओं विशेषकर बरेली में धार्मिक पर्यटन की संभावना एवं नाथ नगरी सर्किट के इण्टीग्रेशन एवं पीलीभीत में इकोटूरिज्म के विकास की संभावना पर स्थानीय स्टेक होल्डर्स से वार्ता एवं बैठक कर अध्ययन करने हेतु निर्देशित किया।

एमएसएमई में 3000 करोड़ का निवेश करने की तैयारी

संयुक्त आयुक्त उद्योग द्वारा बताया गया कि बरेली में एमएसएमई इकाईयों लक्ष्य 3000 करोड़ निवेश के सापेक्ष अब तक कुल 279 इकाईयों के रू0 1426.59 करोड़ के प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं जिनमें 263 नई ग्रीन फील्ड इकाईयों के प्रस्ताव हैं जबकि 16 इकाईयों द्वारा एक्सपेंशन हेतु ब्राउन फील्ड प्रोजेक्ट प्रस्तुत किये गये हैं। बदायूं में लक्ष्य 1000 करोड़ के सापेक्ष कुल 95 ग्रीन फील्ड प्रस्ताव रू0 516.85 करोड़ के, पीलीभीत में 80 नये व 56 एक्सपेंशन के कुल 136 प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं, जिनमें रू0 558.34 करोड़ का निवेश प्रस्तावित है जबकि शाहजहांपुर में कुल 43 प्रस्ताव रू0 448.24 करोड़ के प्राप्त हुए जिनमें 34 ग्रीन फील्ड 9 ब्राउन फील्ड हैं। इसके अतिरिक्त बरेली में रू0 936 करोड़ की 6 इकाईयों के, बदायूं में, रू 90 करोड़ की 01, पीलीभीत में रू0-580 करोड़ की 02 तथा शाहजहांपुर में रू0 800 करोड़ की 01 बड़ी इकाईयों के इन्टेंट फाईल कराये गये हैं।

गोपाल चंद्र अग्रवाल संपादक आल राइट्स मैगज़ीन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: