मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने फिर खोला अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा , दिल्ली में मचा बवाल, राज्यपाल के कई सवाल !

अपने बयानों से चर्चा में रहेने वाले मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने फिर केंद्र की मोदी सरकार पर गोले दागे है .

दरशल रविवार को मुजफ्फरनगर में मालिक ने एक बार फिर सरकार को फिर से कटघरे में खड़ा कर दिया ही , पत्रकारों से बात करते हुए सतपाल मालिक ने कई येशे सवालों का जवाब दिया जिससे सरकार की नींद में खलबली मच गयी है
राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश का किसान जुझारू है। दिल्ली में तीन कृषि कानूनों के खिलाफ हुआ धरना खत्म हुआ है, लेकिन आंदोलन नहीं। उन्होंने कहा कि डर है कि किसानों को दोबारा से लड़ाई में जाना पड़ेगा। सरकार को एमएसपी की मांग तुरंत मान लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि किसान अपनी मांग नहीं छोड़ेगा। किसान संघर्ष करते हैं। पैदावार अच्छी लेते हैं। सरकार ने जो भी वादा किया, उसे पूरा करना चाहिए।

इससे पहले राज्यपाल मलिक हाईवे स्थित गांव घासीपुरा के श्रीराम दरबार पहुंचे। सुबह करीब 11 बजे घासीपुरा में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

लाउडस्पीकर के सवाल पर बोलते हुए कहा कि हमारा देश विनाश की तरफ जा रहा है. मुजफ्फरनगर में सत्यपाल मलिक के भाजपा विरोधी स्वर एक बार फिर सुनाई दिए. उन्होंने कहा कि किसानों से जो वादे किए गए थे वे मुझे भी पूरे होते नजर नहीं आ रहे हैं. किसानों को दोबारा लड़ाई के लिए जाना पड़ेगा. मैं कैसे बताऊं. मैं सरकार नहीं हूं. कुछ चीजें समझाईं जो बाद में इन्होंने मानी. हो सकता है देर से मानें या हो सकता है मजबूरी होगी.

कश्मीर में घोटाले को लेकर जो आरोप उन्होंने लगाए थे

उस पर CBI जांच चल रही है। जिस पर भी रेड हुई, उसके यहां बहुत माल मिला। राज्यपाल ने कहा कि जब वह रिटायर हो जाएंगे, तो CBI को बताएंगे कि और क्या-क्या है।

दरअसल, 17 अक्टूबर, 2021 को राजस्थान के झुंझुनू में सत्यपाल मलिक ने कहा था कि कश्मीर जाने के बाद उनके पास दो फाइलें आईं। एक अंबानी की थी और दूसरी आरएसएस से जुड़े एक शख्स की थी। वह महबूबा मुफ्ती और भाजपा गठबंधन सरकार में मंत्री थे। वह पीएम मोदी के भी बेहद करीबी थे।

उन्हें सचिवों ने सूचना दी थी कि इसमें घोटाला है। फिर उन्होंने बारी-बारी से दोनों डील रद्द कर दी। सचिवों ने उनसे कहा कि दोनों फाइलों के लिए 150-150 करोड़ रुपए दिए जाएंगे। मगर, उनसे कहा कि वह पांच कुर्ता-पायजामे के साथ आए हैं और सिर्फ उसी के साथ यहां से चले जाएंगे। अब इसी बात की CBI जांच चल रही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: