Bareilly news : 2 व 3 जुलाई को जोड़ प्रत्यारोपड पर होगी केडेवेरिक वर्कशॉप

बरेली उत्तर प्रदेश आर्थोपेडिक एसोसिएशन की जोड़ प्रत्यारोपड की 2022 की वार्षिक वर्कशॉप का आयोजन बरेली आर्थोपेडिक एसोसिएशन को मिली है।वर्कशॉप के आयोजन सचिव डॉ विनोद पागरानी ने बताया कि आमतौर पर यह वर्कशॉप एक दिवसीय होती है लेकिन बरेली आर्थोपेडिक एसोसिएशन के विशेष आग्रह पर इस वर्कशॉप को दो दिवसीय किया जाएगा जिससे कि इस वर्कशॉप को ज्यादा विस्तृत तरीके से किया जा सके। इस वर्कशॉप में मृत शरीर पर कूल्हा एवं घुटना बदलने की प्रैक्टिस की जाएगी जिसे केडेवेरिक अर्थोप्लास्टी कोर्स कहा जाता है। इस तरह की यह आठवीं वर्कशॉप है जिसके आयोजन की जिम्मेदारी बरेली आर्थोपेडिक एसोसिएशन को पहली बार मिली है। इस वर्कशॉप में 2 जुलाई को सुबह के सत्र में कूल्हा बदलने की विधि को सिखाने के लिए लेक्चर होगा फिर वर्कशॉप का उद्घाटन समारोह 1.30 पर किया जाएगा उसके बाद मृत शरीर पर उसका प्रेक्टिकल देश विदेश से आये हुए वरिष्ठ हड्डी रोग सर्जन द्वारा किया जायेगा जिसे पूरे देश से इस विधि को सीखने आये हुए हड्डी रोग सर्जन देखेंगे व इस विधि की प्रैक्टिस भी करेंगे। सात मृत शरीरों की व्यवस्था रोहिलखण्ड मेडिकल कालेज के द्वारा की गई है। इसके साथ ही 3 जुलाई को सुबह के सत्र में घुटने को बदलने की विधि लेक्चर के द्वारा सिखाई जायगी उसके बाद उस विधि का भी प्रेक्टिकल मृत शरीर पर किया जाएगा।

बरेली आर्थोपेडिक एसोसिएशन के सचिव डॉ आदित्य माहेश्वरी ने बताया कि वर्कशॉप में देश विदेश में ख्याति प्राप्त लगभग 35 हड्डी रोग सर्जन सिखाने के लिए आ रहे हैं जिनमे प्रमुखता से डॉ हरीश भिंडे जो कि मुम्बई से हैं, डॉ जे पचोरे जो कि अहमदाबाद से हैं,दिल्ली से डॉ जितेंद्र माहेश्वरी,डॉ सी एस यादव,डॉ अनिल अरोड़ा,डॉ राजीव शर्मा आ रहे हैं , डॉ ए एस प्रसाद कानपुर से,डॉ अनूप खरे आगरा से , डॉ संदीप कपूर आदि।ऑर्गनाइजिंग को चेयरमैन डॉ मनोज हिरानी ने बताया कि लगभग 200 हड्डी रोग सर्जन इस वर्कशॉप में कोर्स को सीखने के लिए आ रहे हैं।यह बरेली चिकित्सा जगत का बड़ा सौभाग्य है कि इतना बड़ा कोर्स बरेली में हो रहा है।डेढ़ महीने के बहुत कम समय मे ही इस कोर्स की सभी तैयारियों को बखूबी पूरा किया गया।जॉइंट ऑर्गनाइजिंग सेक्रेटरी डॉ वरुण अग्रवाल ने बताया कि सीखने वाले डॉक्टर्स के बहुत सारे रजिस्ट्रेशन भी हुए।इस कोर्स के माध्यम से कूल्हा व घुटना बदलने की नई तकनीकों का आदान प्रदान होगा जिससे आमजन लाभान्वित होंगे व उन्हें बड़े शहरों में ज्यादा खर्च करके जोड़ प्रत्यारोपड करवाने नही जाना पड़ेगा क्योंकि उनका यह काम उन्ही के शहर में कम खर्च में हो जाया करेगा।

कांफ्रेंस के ऑर्गनाइजिंग चेयरमैन डॉ संजय गुप्ता, ऑर्गनाइजिंग सेक्रेटरी डॉ विनोद पागरानी,जॉइंट ऑर्गनाइजिंग सेक्रेटरी डॉ वरुण अग्रवाल , ऑर्गनाइजिंग को चेयरमैन डॉ मनोज हिरानी होंगे। बरेली आर्थोपेडिक एसोसिएशन के सेक्रेटरी डॉ आदित्य माहेश्वरी,बरेली अथोपेंडिक एसोसिएशन के जॉइंट सेक्रेटरी डॉ रविन्द्र प्रताप सिंह, बरेली अथोपेंडिक एसोसिएशन के वाईस प्रेसिडेंट डॉ राकेश गुप्ता,बरेली अथोपेंडिक एसोसिएशन के प्रेसिडेंट इलेक्ट डॉ एस के कौशिक बरेली अथोपेंडिक एसोसिएशन के ट्रेजरार डॉ प्रवीण अग्रवाल,उत्तर प्रदेश आर्थोपेडिक एसोसिएशन के प्रेसिडेंट डॉ आशीष कुमार,उत्तर प्रदेश आर्थोपेडिक एसोसिएशन के प्रेसिडेंट इलेक्ट डॉ अनूप अग्रवाल,उत्तर प्रदेश आर्थोपेडिक एसोसिएशन के सेक्रेटरी डॉ सन्तोष सिंह भी कांफ्रेंस में होंगे।

प्रेस कांफ्रेंस में डॉ विनोद पागरानी,डॉ संजय गुप्ता,डॉ प्रमेन्द्र माहेश्वरी,डॉ आर के सिंह,डॉ मनोज हिरानी,डॉ आदित्य माहेश्वरी,डॉ वरुण अग्रवाल,डॉ रविन्द्र प्रताप सिंह,डॉ राकेश गुप्ता,डॉ एस के कौशिक,डॉ प्रवीण अग्रवाल,मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: