पाकिस्तान के फ़ैसलाबाद ज़िले में बन्गे उर्फ चक 105 जीबी नामक गाँव मे शहीद ए आज़म भगत सिंह का मकान !

यह जो मकान आप देख रहे हैं मामूली नही है। यह पाकिस्तान के फ़ैसलाबाद ज़िले में बन्गे उर्फ चक 105 जीबी नामक गाँव मे शहीद ए आज़म भगत सिंह का मकान है। पाकिस्तान सरकार ने अब इस गांव का नाम ही भगतपुरा कर दिया है । पाकिस्तान ने इसे नेशनल हेरिटेज साइट भी घोषित कर दिया है।
23 मार्च को भगतपुरा में भगत सिंह और सालाना जलसा हो रहा है। आज पता चला कि लाहौर में भगत सिंह मेमोरियल फाउंडेशन के चेयरमैन इम्तियाज़ कुरोशी ने शहीद भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव की बेगुनाही को लेकर लाहौर हाईकोर्ट में एक मुकदमा भी कायम कर रखा है जिसकी सुनवाई अब पांच जजों की खंडपीठ कर रही है।
अब पता चला है कि जिस मामले में अनारकली पुलिस स्टेशन में भगत सिंह और उनके साथियों के खिलाफ एफ़आईआर की गई उस एफ़आईआर में इन तीनों शहीदों के नाम ही नही थे। 17 सितंबर 1928 में दर्ज इस एफ़आईआर में दो अज्ञात बंदूकधारियों का नाम लिखा है।

बरेली से मोहम्मद शीराज़ ख़ान की रिपोर्ट !