Health-Heart-Attack हार्ट अटैक से कैसे बचे जानिए

#allrightsmagazine #topnews #health

हार्ट अटैक से कैसे बचे जानिए

कोलेस्ट्रॉल के दिल के पास पहुंचने से आता है हार्ट अटैक, 5 चीजें आंतों से ही खींचकर निकाल देंगी बाहर

गंदा कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए फाइबर वाली चीजों को खाना चाहिए। ये फूड गंदे कोलेस्ट्रॉल को दिल तक नहीं पहुंचने देते और हार्ट अटैक से बचाते हैं।

कोलेस्ट्रॉल के दिल के पास पहुंचने से आता है हार्ट अटैक, 5 चीजें आंतों से ही खींचकर निकाल देंगी बाहर. एलडीएल कोलेस्ट्रॉल एक गंदा पदार्थ है, जिसका शरीर में कोई काम नहीं होता। यह एचडीएल कोलेस्ट्रॉल (अच्छा कोलेस्ट्रॉल) से अलग होता है। अच्छे और जरूरी कोलेस्ट्रॉल को लिवर पर्याप्त मात्रा में बना लेता है। लेकिन फैट वाले फूड खाने से गंदा कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाता है और नसों में जम जाता है।

गंदा कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने वाले फूड? खाने की जिन चीजों में सैचुरेटेड और ट्रांस फैट होता है, उनके सेवन से खतरनाक कोलेस्ट्रॉल बढ़ने लगता है मक्खन, घी, मीट, चीज़, डेयरी प्रॉडक्ट, आइसक्रीम, नारियल तेल आदि फूड में ऐसे फैट्स पाए जाते हैं, जो हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन कोलेस्ट्रॉल को बढ़ा सकें।

दिल के पास नहीं पहुंचने दें कोलेस्ट्रॉल. हाई कोलेस्ट्रॉल के कारण नसों में चिपपिचा पदार्थ जमकर इकट्ठा होने लगता है जब इसकी मात्रा नस में बहुत ज्यादा हो जाती है, तो यह रक्त वाहिका को बंद कर देता है और खून पर्याप्त मात्रा में बह नहीं पाता है। कई बार यह पदार्थ टूटकर दिल के पास पहुंच जाता है और नसों को बंद करके हार्ट अटैक का कारण बन जाता है।

आंत से ही खींच लेंगे ये फूड. फाइबर वाले फूड खाने से कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ता नहीं है। एनसीबीआई पर छपी रिसर्च कहती है कि सॉल्यूबल फाइबर आंतों में ही कोलेस्ट्रॉल को बांध लेता है और मल के रूप में शरीर से बाहर ले आता है इसलिए टोटल व बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए फाइबर वाली चीजें खानी चाहिए।

सेब खाने से कम होगी गंदगी. हेल्थलाइन के अनुसार, 1 मध्यम आकार के सेब में 1 ग्राम सॉल्यूबल फाइबर होता है। इसलिए डाइट में सेब खाने से गंदा कोलेस्ट्रॉल कम किया जा सकता है। आप रोजाना 1-2 सेब का सेवन आराम से कर सकते हैं।

गाजर भी है फायदेमंद… ठंड में मिलने वाली गाजर में डाइटरी फाइबर उच्च मात्रा में होता है। इसलिए गाजर का सेवन करने से नसों में गंदगी जमने से रोका जा सकता है। 128 ग्राम गाजर में करीब 2.4 ग्राम सॉल्यूबल फाइबर होता है।

मटर, ओट्स और ईसबगोल की भूसी लाइफस्टाइलरिलेशनशिप हेल्थ फैमिलीफैशनब्यूटी & स्किनहोम डेकोर हैक्सएक्सपर्ट की सलाहखान-पानफोटोवीडियोलाइफस्टाइल वेब स्टोरीहेल्थ वेब स्टोरीब्यूटी वेब स्टोरीफैशन वेब स्टोरीखान-पान वेब स्टोर

हाई यूरिक एसिड का आयुर्वेदिक उपचारदेबीना की छोटी बेटी का नाममिस थाईलैंड ने पहनी कचरे से बनी ड्रेस13 साल की लड़की के पिता से शादी

कोलेस्ट्रॉल के दिल के पास पहुंचने से आता है हार्ट अटैक, 5 चीजें आंतों से ही खींचकर निकाल देंगी बाहर गंदा कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए फाइबर वाली चीजों को खाना चाहिए। ये फूड गंदे कोलेस्ट्रॉल को दिल तक नहीं पहुंचने देते और हार्ट अटैक से बचाते हैं।

कोलेस्ट्रॉल के दिल के पास पहुंचने से आता है हार्ट अटैक, 5 चीजें आंतों से ही खींचकर निकाल देंगी बाहर

एलडीएल कोलेस्ट्रॉल एक गंदा पदार्थ है, जिसका शरीर में कोई काम नहीं होता। यह एचडीएल कोलेस्ट्रॉल (अच्छा कोलेस्ट्रॉल) से अलग होता है। अच्छे और जरूरी कोलेस्ट्रॉल को लिवर पर्याप्त मात्रा में बना लेता है। लेकिन फैट वाले फूड खाने से गंदा कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाता है और नसों में जम जाता है।

गंदा कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने वाले फूड? खाने की जिन चीजों में सैचुरेटेड और ट्रांस फैट होता है, उनके सेवन से खतरनाक कोलेस्ट्रॉल बढ़ने लगता है। मक्खन, घी, मीट, चीज़, डेयरी प्रॉडक्ट, आइसक्रीम, नारियल तेल आदि फूड में ऐसे फैट्स पाए जाते हैं, जो हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन कोलेस्ट्रॉल को बढ़ा सकें।

दिल के पास नहीं पहुंचने दें कोलेस्ट्रॉल

हाई कोलेस्ट्रॉल के कारण नसों में चिपपिचा पदार्थ जमकर इकट्ठा होने लगता है। जब इसकी मात्रा नस में बहुत ज्यादा हो जाती है, तो यह रक्त वाहिका को बंद कर देता है और खून पर्याप्त मात्रा में बह नहीं पाता है। कई बार यह पदार्थ टूटकर दिल के पास पहुंच जाता है और नसों को बंद करके हार्ट अटैक का कारण बन जाता है।

आंत से ही खींच लेंगे ये फूड

फाइबर वाले फूड खाने से कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ता नहीं है। एनसीबीआई पर छपी रिसर्च कहती है कि सॉल्यूबल फाइबर आंतों में ही कोलेस्ट्रॉल को बांध लेता है और मल के रूप में शरीर से बाहर ले आता है। इसलिए टोटल व बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए फाइबर वाली चीजें खानी चाहिए।

सेब खाने से कम होगी गंदगी

हेल्थलाइन के अनुसार, 1 मध्यम आकार के सेब में 1 ग्राम सॉल्यूबल फाइबर होता है। इसलिए डाइट में सेब खाने से गंदा कोलेस्ट्रॉल कम किया जा सकता है। आप रोजाना 1-2 सेब का सेवन आराम से कर सकते हैं।

गाजर भी है फायदेमंद

ठंड में मिलने वाली गाजर में डाइटरी फाइबर उच्च मात्रा में होता है। इसलिए गाजर का सेवन करने से नसों में गंदगी जमने से रोका जा सकता है। 128 ग्राम गाजर में करीब 2.4 ग्राम सॉल्यूबल फाइबर होता है।

मटर, ओट्स और ईसबगोल की भूसी

मटर और ओट्स के साथ ईसबगोल की भूसी में भी सॉल्यूबल फाइबर मौजूद होता है। मटर और ओट्स को खाने की तरह पकाकर खाया जा सकता है। वहीं, ईसबगोल की भूसी को दिन में दो बार खाकर फायदा पा सकते हैं।

डिस्क्लेमर: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

गोपाल चंद्र अग्रवाल संपादक आल राइट्स मैगज़ीन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: