Bareilly-बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के अंतर्गत समस्त लोगों को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के कैलेंडर एवं स्टीकर प्रदान किए गए

#allrightsmagazine #bareilly #dmbareilly #betibachaobetipadao #calender

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के अंतर्गत समस्त लोगों को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के कैलेंडर एवं स्टीकर प्रदान किए गए

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, बाल विवाह रोकने के लिए दी गई जानकारी

कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की थीम पर पोस्टर प्रतियोगिता एवं स्लोगन प्रतियोगिता का आयोजन

बरेली, 20 जनवरी। जिलाधिकारी श्री शिवाकान्त द्विवेदी द्वारा दिये गये निर्देश के क्रम में आज जिला प्रोबेशन अधिकारी ने जनपद के ब्लॉकों में बाल लिंगानुपात, बाल संरक्षण और किशोरियों में कौशल विकास का महत्व पर ग्राम सभा/महिला सभा का आयोजन एवं सार्वजनिक इमारतों, पंचायत कार्यालयों, घरों इत्यादि पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ संदेश के साथ स्टीकर चस्पा अभियान चलाया गया, बेटियों को उनके अधिकारों के प्रति जागरुक करने के लिये और समानता का भाव जगाने के लिये महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय बालिका दिवस दिनांक 24 जनवरी, 2023 के अवसर पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना के अन्तर्गत राष्ट्रीय बालिका दिवस सप्ताह समारोह का प्रारम्भ किया गया।

पुलिस लाइन सभागार में आज बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत बेटियों की सुरक्षा और उनके अधिकारों को सुरक्षित बनाए रखने के लिए एस.पी. क्राइम श्री मुकेश प्रताप सिंह की अध्यक्षता में पुलिस लाइन सभागार में स्पेशल जुवेनाइल पुलिस यूनिट की बैठक आयोजित की गई। एस.पी. क्राइम द्वारा ‘‘सुरक्षित बेटी सुरक्षित समाज‘‘ की अवधारणा को साकार करने हेतु निर्देशित किया।

बैठक में जिला प्रोबेशन अधिकारी श्रीमती नीता अहिरवार ने बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष श्री दिनेश चंद्रा, बाल कल्याण समिति के सदस्य राखी चौहान, रश्मि सिंह, शीला सिंह, मोनिका गुप्ता, श्रम विभाग के अधिकारी, स्वास्थ्य विभाग के एडिशनल सीएमओ, चाइल्ड लाइन कोऑर्डिनेटर, जिला बाल संरक्षण इकाई की टीम, वन स्टॉप सेंटर टीम, समस्त पुलिस थानों के पुलिस बाल कल्याण अधिकारी उपस्थित रहे। साथ में ए.एच.टी.यू., बचपन बचाओ आंदोलन के प्रतिनिधि उपस्थित रहे, बच्चों और बेटियों को कैसे और सुरक्षित बनाया जा सके साथ ही उन तक उनके अधिकारों को पहुंच कर और बेहतर बनाया जाए इसके लिए विचार विमर्श किया गया।

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के अंतर्गत समस्त लोगों को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के कैलेंडर एवं स्टीकर प्रदान किए गए। जिला प्रोबेशन अधिकारी नीता अहिरवार ने एसपी क्राइम को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ स्टिकर की डायरी एवं कैलेंडर भेंट किया।

एस.पी. क्राइम की अध्यक्षता में सभागार में उपस्थित सभी लोगों ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की शपथ ग्रहण की विभिन्न चौराहों पर भीख मांगने वाले बच्चों को या बाल मजदूरी वाले बच्चों को रेस्क्यू किया जाने हेतु रणनीति तैयार की गई शीघ्र ही बच्चों की पहचान करके उनको भिक्षावृत्ति से अलग किया जाएगा और उनके पुनर्वास की व्यवस्था विभिन्न विभाग मिलकर सुनिश्चित करेंगे।

स्वास्थ्य विभाग एडिशनल सी.एम.ओ. ने बताया कि पुलिस निरंतर अपने क्षेत्र में संचालित अवैध रूप से अल्ट्रासाउंड सेंटर की जानकारी रखें और अगर कही भी गर्भ में भ्रुण के लिंग परीक्षण करके बताया जा रहा है तो तुरंत उस पर कार्यवाही कराएं, जिससे कि बेटियां सुरक्षित जन्म ले सकें और विभिन्न बीमारियों से बचाने के लिए टीकाकरण अनिवार्य रूप से कराने हेतु अवगत कराएं।

जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, बाल विवाह रोकने के लिए जानकारी दी गई साथ ही राष्ट्रीय बालिका दिवस सप्ताह समारोह के विषय में विस्तृत रूप से सभी को अवगत कराया गया। सभागार में उपस्थित सभी लोगों ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ हस्ताक्षर अभियान पर हस्ताक्षर करते हुए बेटियों के नाम संदेश ज्ञापित किया।

वन स्टॉप सेंटर बरेली से सामाजिक कार्यकर्ता रीना चंद्रवंशी ने अपर प्राइमरी बालजति स्कूल में कार्यक्रम का आयोजन किया। किशोरियों एवं बालिकाओं को खेलों के प्रति बढ़ावा दिया गया एवं खो-खो खेल प्रतियोगिता का आयोजन कराया गया साथ ही सभी को बालिका सुरक्षा शपथ करायी गयी। कार्यक्रम में स्कूल की प्रधानाध्यापिका, अध्यापिका एवं जन साहस एनजीओ से खुशबू उपस्थित रही।

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना के अन्तर्गत राष्ट्रीय बालिका दिवस सप्ताह समारोह के क्रम में सुश्री सोनम शर्मा महिला कल्याण अधिकारी के द्वारा कस्तुरबा विद्यालय फरीदपुर नगर करेली, श्रीमती रिंकी सेनी के द्वारा कस्तुरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय नगर क्षेत्र में कैम्प का आयोजन किया गया जिसमें ’’बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’’ योजना के अंतर्गत आज की गतिविधि के अंतर्गत कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की थीम पर पोस्टर प्रतियोगिता एवं स्लोगन प्रतियोगिता का आयोजन कराया गया।

जिसमें बेटियों ने बेटियों के प्रति अपने विचारों और भावों को चित्रों के माध्यम से चार्ट पेपर पर चित्रित किया और पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया। साथ ही बेटियों में खेल की भावना बढ़ाने के लिए खेलों का भी आयोजन किया गया जिसमें बच्चों ने प्रतिभाग किया। कस्तूरबा विद्यालय में बच्चों द्वारा बहुत ही सुंदर चित्र बनाए गए और प्रतियोगिता में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।

कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय नगर क्षेत्र में रिंकी एवं बिथरी चैनपुर में सुमन द्वारा प्रतियोगिता का आयोजन कराया गया, इन समस्त कार्यक्रमों में महिला एवं बालिकाओं को बाल लिंगानुपात में सुधार हेतु अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने की अपील की गयी एवं बाल संरक्षण हेतु बाल संरक्षण योजना के अन्तर्गत स्पॉन्सरशिप के बारे में अवगत कराया व ऐसे बच्चे जिनके माता-पिता नहीं हैं उन्हें बाल कल्याण समिति के समक्ष प्रस्तुत कराकर किसी भी बाल गृह में रखवाया जा सकता है और यदि कोई उनका संरक्षण बनना चाहता है तो वह बाल कल्याण समिति के समक्ष ही प्रस्तुत होकर संरक्षक बनने की प्रक्रिया पूरा कर सकता है

गोपाल चंद्र अग्रवाल संपादक आल राइट्स मैगज़ीन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: