UPSTF : वर्ष-2019 से पुलिस अभिरक्षा से फरार रू0 50,000/- का पुरस्कार घोषित शातिर अपराधी अनुज रावत गिरफ्तार

स्पेशल टास्क फोर्स, उत्तर प्रदेश, लखनऊ। प्रेस नोट संख्याः 07, दिनांकः 07-01-2023

दिनांकः 07-01-2023 को एस0टीएफ0एफ0 उत्तर प्रदेश को वर्ष 2019 से पुलिस अभिरक्षा से फरार रू0 50,000/- के पुरस्कार घोषित शातिर अपराधी अनुज रावत पुत्र उदयवीर को गिरफ्तार करने में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई।

अभियुक्त का विवरणः– अनुज रावत पुत्र स्व0 उदयवीर निवासी छज्जूपुर की मडैय्या, थाना धौलाना, जनपद हापुड हाल पता-डिफेन्स एन्क्लेव तिलपता थाना दादरी, गौतमबुद्धनगर।

गिरफ्तारी का दिनांक समय/स्थानः– दिनांक 07-01-2023 समय 13.00 बजे, आई0एस0बी0टी0 कष्मीरीगेट, दिल्ली।

उत्तर प्रदेष एस0टी0एफ0 द्वारा फरार/पुरस्कार घोषित अपराधियों के विरूद्ध कार्यवाही एवं गिरफ्तारी हेतु उ0प्र0 एसटीएफ की टीमांे/फील्ड इकाईयों को निर्देषित किया गया था, जिसके अनुक्रम में श्री राज कुमार मिश्रा, अपर पुलिस अधीक्षक, एस0टी0एफ0 फील्ड इकाई, नोएडा के पर्यवेक्षण में उप निरीक्षक श्री अवध नारायण चौधरी द्वारा टीम गठित कर अभिसूचना संकलन की कार्यवाही की जा रही थी।

दिनांक 07-01-2023 को अभिसूचना संकलन के दौरान एस0टी0एफ0 फील्ड इकाई, नोएडा को सूचना प्राप्त हुई कि पुलिस अभिरक्षा से फरार मु0अ0सं0 2254/19 धारा 223/224 भादवि थाना कविनगर, जनपद गाजियाबाद में वांछित रू0 50,000/- का पुरस्कार घोषित शातिर अपराधी अनुज रावत कहीं जाने के लिए आईएसबीटी, कष्मीरीगेट दिल्ली पर आने वाला हैै। इस सूचना पर विश्वास कर एसटीएफ नोएडा टीम द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए गन्तव्य स्थान पर पहॅुचकर अभियुक्त अनुज रावत उपरोक्त को गिरफ्तार कर लिया गया।

पूछताछ पर गिरफ्तार अभियुक्त अनुज रावत उपरोक्त ने बताया कि उसने वर्ष 2016 में अपने साथी अमन, अरूण व संदीप के साथ मिलकर नषीला पदार्थ खिलाकर गैंग रेप की एक घटना को अंजाम दिया था, जिसके सम्बन्ध में थाना कविनगर जनपद गाजियाबाद पर मु0अ0सं0 1130/16 धारा 328, 376डी, 506 भादवि का अभियोग पंजीकृत हुआ था, जिसमें दिनांक 22.09.2017 को गिरफ्तार होकर जेल गया था।

इस अभियोग में पेषी के दौरान दिनांक 17.12.2019 को माननीय न्यायालय एफटीसी प्रथम, गाजियाबाद के न्यायालय में ले जाया जा रहा था तभी पुलिस अभिरक्षा से फरार हो गया था। इस सम्बन्ध में थाना कविनगर जनपद गाजियाबाद पर मु0अ0सं0ः 2254/19 धारा 223, 224 भादवि का अभियोग पंजीकृत हुआ था जिसमें वांछित चल रहा था और गिरफ्तारी हेतु रू0 50 हजार का इनाम घोषित था।

पूछताछ में यह भी बताया कि वह मेरठ में 12 वीं की पढाई के दौरान हॉस्टल में रहता था, जहॉ पर सुषील फौजी गैंग के सक्रिय सदस्य सुमित जाट निवासी रजापुर, मेरठ के साथ का एक लड़का भी पढता था, जिसके पास सुमित जाट का आना-जाना रहता था, इस लडके के माध्यम से इसकी सुमित जाट से दोस्ती हो गयी और सुमित जाट के माध्यम से यह सुषील फौजी के सम्पर्क में आ गया। पुलिस कस्टडी से फरार होने के यह उज्जैन, दिल्ली एवं पंजाब में छिपकर रह रहा था।

गिरफ्तार अभियुक्त अनुज उपरोक्त का निम्न अपराधिक इतिहास ज्ञात हुआ हैः- क्र0सं0 मु0अ0स0 धारा थाना जनपद 1. 1130/16 328,376डी,506 भादवि कविनगर गाजियाबाद 2. 763/17 392,411 भादवि क्विनगर गाजियाबाद 3. 776/17 392,411 भादवि कविनगर गजियाबाद 4. 2254/19 223,224 भादवि कविनगर गजियाबाद

अभियुक्त अनुज रावत उपरोक्त को थाना कविनगर जनपद गाजियाबाद के मु0अ0सं0ः.2254/19 धारा 223, 224 भादवि में दाखिल किया गया है, अग्रिम वैधानिक कार्यवाही थाना कविनगर जनपद गाजियाबाद पुलिस द्वारा की जा रही है।

गोपाल चंद्र अग्रवाल संपादक आल राइट्स मैगज़ीन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: