PIB : चौथे चरण के मतदान के लिए सभी तैयारियां पूरी

विस्तृत विवरण: 96 लोकसभा सीट, 17.7 करोड़ मतदाता, 1.92 लाख मतदान केंद्र, 10 राज्य/केंद्र-शासित प्रदेश

इस चरण में आंध्र प्रदेश की 175 विधान सभा सीटों और ओडिशा की 28 विधान सभा सीटों पर भी मतदान

मतदान के दिन लू चलने का कोई पूर्वानुमान नहीं; सामान्य से लेकर सामान्य से कम तापमान (±2 डिग्री) का पूर्वानुमान

मतदाताओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए तेलंगाना में मतदान का समय बढ़ाया गया

भारत निर्वाचन आयोग कल से शुरू होने वाले आम चुनाव के चौथे चरण के लिए पूरी तरह तैयार है चौथे चरण में, 10 राज्यों/केंद्र-शासित प्रदेशों के 96 संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों के साथ आंध्र प्रदेश की राज्य विधान सभा की सभी 175 सीटें और ओडिशा की राज्य विधानसभा की 28 सीटों के लिए मतदान होगा।

मतदाताओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए निर्वाचन आयोग द्वारा तेलंगाना के 17 संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों के कुछ विधानसभा क्षेत्रों में मतदान का समय (सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक) बढ़ा दिया गया।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के पूर्वानुमान के अनुसार चौथे चरण में मतदान के लिए गर्म मौसम की स्थिति के बारे में कोई महत्वपूर्ण चिंता की बात नहीं है।

मौसम पूर्वानुमान से संकेत मिलता है कि मतदान वाले संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान के दिन सामान्य से लेकर सामान्य से नीचे (±2 डिग्री) तापमान रहने की संभावना है और इन इलाकों में लू जैसी स्थिति नहीं रहेगी।

हालांकि, मतदाताओं की सुविधा के लिए सभी मतदान केंद्रों पर पानी, शामियाना और पंखे जैसी सुविधाओं सहित चाक-चौबंद व्यवस्था की गई है।

अब तक, आम चुनाव 2024 के तीसरे चरण तक, 20 राज्यों/केंद्र-शासित प्रदेशों के 283 संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान सुचारु और शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गया है। वोटों की गिनती 4 जून को होनी है।

चौथे चरण से जुड़े तथ्य:

1. आम चुनाव 2024 के चौथे चरण के लिए मतदान 13 मई, 2024 को 10 राज्यों/केंद्र-शासित प्रदेशों के 96 संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों (सामान्य-64; अनुसूचित जनजाति-12; अनुसूचित जाति-20) के लिए होगा। मतदान सुबह 7 बजे शुरू होता है और शाम 6 बजे समाप्त होता है (मतदान बंद होने का समय संसदीय निर्वाचन क्षेत्र (पीसी) के अनुसार भिन्न हो सकता है)

2. आंध्र प्रदेश विधानसभा की सभी 175 सीटों (सामान्य-139; अनुसूचित जनजाति-7; अनुसूचित जाति-29) और ओडिशा विधानसभा की 28 सीटों (सामान्य-11; अनुसूचित जनजाति-14; अनुसूचित जाति-3) के लिए भी 13 मई को चौथे चरण में एक साथ मतदान होंगे।

3. लोकसभा चुनाव 2024 के चौथे चरण में 10 राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों से 1717 उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे। चौथे चरण के लिए संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की औसत संख्या 18 है।

4. मतदान और सुरक्षा अधिकारियों को पहुंचाने के लिए चौथे चरण में तीन राज्यों (आंध्र प्रदेश -02, झारखंड- 108; ओडिशा-12) में 122 हवाई उड़ानें संचालित की गईं।

5. 19 लाख से अधिक मतदान अधिकारी 1.92 लाख मतदान केंद्रों पर 17.7 करोड़ से अधिक मतदाताओं का स्वागत करेंगे।

6. 8.97 करोड़ पुरुष सहित 17.70 करोड़ से अधिक मतदाता; 8.73 करोड़ महिला मतदाता।

7. चौथे चरण के लिए 85 वर्ष से अधिक उम्र के 12.49 लाख से अधिक पंजीकृत और 19.99 लाख दिव्यांग मतदाता हैं, जिन्हें अपने घर से आराम से मतदान करने का विकल्प प्रदान किया गया है। वैकल्पिक होम वोटिंग सुविधा को पहले से ही काफी सराहना और प्रतिक्रिया मिल रही है।

8. आम चुनाव 2024 के चरण 4 के लिए 364 पर्यवेक्षक (126 सामान्य पर्यवेक्षक, 70 पुलिस पर्यवेक्षक, 168 व्यय पर्यवेक्षक) मतदान से कुछ दिन पहले ही अपने निर्वाचन क्षेत्रों में पहुंच चुके हैं। वे अत्यधिक सतर्कता बरतने के लिए आयोग की आंख और कान के रूप में कार्य करते हैं। इसके अतिरिक्त, कुछ राज्यों में विशेष पर्यवेक्षकों को तैनात किया गया है।

9. कुल 4661 उड़न दस्ते, 4438 स्थैतिक निगरानी दल, 1710 वीडियो निगरानी दल और 934 वीडियो देखने वाली टीमें मतदाताओं को किसी भी प्रकार के प्रलोभन से सख्ती से और तेजी से निपटने के लिए चौबीसों घंटे निगरानी रख रही हैं।

10. कुल 1016 अंतरराज्यीय और 121 अंतर्राष्ट्रीय सीमा चौकियां शराब, ड्रग्स, नकदी और मुफ्त वस्तुओं के किसी भी अवैध प्रवाह पर कड़ी निगरानी रख रही हैं। समुद्री और हवाई मार्गों पर कड़ी निगरानी रखी गई है।

11. पानी, शेड, शौचालय, रैंप, स्वयंसेवक, व्हीलचेयर और बिजली जैसी आवश्यक न्यूनतम सुविधाएं मौजूद हैं, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि बुजुर्गों और दिव्यांगजनों सहित प्रत्येक मतदाता आसानी से अपना वोट डाल सके।

12. सभी पंजीकृत मतदाताओं को मतदाता सूचना पर्चियां वितरित कर दी गई हैं। ये पर्चियां एक सुविधा संबंधी उपाय के रूप में और आयोग की ओर से मतदान करने के आमंत्रण के रूप में भी काम करती हैं।

13. मतदाता इस लिंक https://electoralsearch.eci.gov.in/ के माध्यम से अपने मतदान केंद्र का विवरण और मतदान की तारीख देख सकते हैं।

14. आयोग ने मतदान केंद्रों पर पहचान सत्यापन के लिए मतदाता पहचान पत्र (ईपीआईसी) के अलावा 12 वैकल्पिक दस्तावेज दिखाने की सुविधा भी उपलब्ध कराई हैं।

मतदाता सूची में पंजीकृत व्यक्ति इनमें से कोई भी दस्तावेज दिखाकर मतदान कर सकता है। वैकल्पिक पहचान दस्तावेजों के लिए भारत निर्वाचन आयोग (ईसीआई) के आदेश का लिंक: https://www.eci.gov.in/eci-backend/public/api/download?url=LMAhAK6sOPBp%2FNFF0iRfXbEB1EVSLT41NNLRjYNJJP1KivrUxbfqkDatmHy12e%2FzBiU51zPFZI5qMtjV1qgjFsi8N4zYcCRaQ2199MM81QYarA39BJWGAJqpL2w0Jta9CSv%2B1yJkuMeCkTzY9fhBvw%3D%3D

15. लोकसभा 2019 के आम चुनाव में मतदाता मतदान का डेटा निम्नलिखित लिंक पर उपलब्ध है:  https://old.eci.gov.in/files/file/13579-13-pc-wise-voters-turn-out/

16. तीसरे चरण के बाद से, वोटर टर्न आउट ऐप को प्रत्येक चरण के लिए समग्र अनुमानित मतदान को लाइव प्रदर्शित करने की एक नई सुविधा के साथ अद्यतन किया गया है।

यह ध्यान रखना उचित है कि चरणवार/राज्यवार/विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रवार/संसदीय निर्वाचन क्षेत्रवार अनुमानित मतदान संबंधी आंकड़ा वोटर टर्न आउट ऐप पर मतदान के दिन दो घंटे के आधार पर शाम 7 बजे तक लाइव उपलब्ध होना चाहिए, जिसके बाद मतदान दलों के आगमन पर इसे लगातार अपडेट किया जाता है।

ब्यूरो चीफ, रिजुल अग्रवाल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: