बरेली के सिटी डेवलपमेंट प्लान की आरम्भिक रिपोर्ट/प्रस्तुतीकरण पर कमिश्नरी सभागार में सम्पन्न बैठक

माननीय सांसद श्री संतोष कुमार गंगवार ने कहा कि सिटी डेवलपमेंट प्लान के लिए किए जा रहे सर्वे में स्थानीय स्तर के सभी लघु उद्योगों को भी शामिल किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि वर्तमान में बरेली में जो भी विकास कार्य चल रहे हैं, उनके साथ ही भविष्य में किए जाने वाले विकास कार्यों से तालमेल आवश्यक है। उन्होंने कहा कि विकास कार्य करने वाली सभी एजेंसियों के बीच समन्वय बना रहना चाहिए और इस बात का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए कि सभी विकास कार्य नागरिकों की सुविधा के लिए किए जा रहे हैं। माननीय सांसद आज कमिश्नरी सभागार में आयोजित सिटी डेवलपमेंट प्लान की आरम्भिक रिपोर्ट/प्रस्तुतीकरण के अवसर पर उपस्थित अधिकारियों एवं एजेंसियों के प्रतिनिधियों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बरेली के विकास के परिप्रेक्ष्य में नाथ नगरी को आधार रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि यहां के जो उद्योग धंधे हैं, उनके आधार पर ही भविष्य के विकास कार्यों की रूप रेखा तैयार होनी चाहिए। बैठक में माननीय सांसद श्री संतोष कुमार गंगवार, माननीय महापौर डॉ. उमेश गौतम, माननीय विधायक डॉ. अरुण कुमार, मंडलायुक्त श्री आर. रमेश कुमार, जिलाधिकारी श्री शिवाकान्त द्विवेदी, उपाध्यक्ष बरेली विकास प्राधिकरण श्री जोगेन्दर सिंह, क्रेडाई के श्री रमन सिंह, एसपी ट्रैफिक श्री राममोहन सिंह, संयुक्त निदेशक उद्योग श्री ऋषि रंजन गोयल, जनपद के विभिन्न उद्यमियों सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। माननीय महापौर डॉ. उमेश गौतम ने कहा कि शहर के विकास के लिए जो सर्वें किया जा रहा है उससे सम्बंधित आंकड़ों का मिलान अवश्य कर लिया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि आवासीय क्षेत्रों में नागरिक सुविधाओं के साथ साथ आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता भी सुनिश्चित कराए जाने के प्रावधान किए जाना आवश्यक है। नगर विधायक माननीय डॉ. अरुण कुमार ने कहा कि बरेली के विकास के लिए जो भी योजनाएं बनाई जाएं, उनमें स्थानीय आवश्यकताओं का ध्यान रखा जाए। उन्होंने यह भी कहा कि बरेली में पर्यटन सहित विभिन्न प्रकार के विकास कार्यों की अपार संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि बरेली में पूर्व में भी बड़े उद्योगों के लिए अनुकूल वातावरण रहा है और भविष्य में भी रहेगा, इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए भविष्य की विकास योजनाएं तैयार की जाएं। बैठक में मंडलायुक्त श्री आर. रमेश कुमार ने कहा कि सिटी डेवलपमेंट प्लान की आरम्भिक रिपोर्ट के आधार पर विस्तृत प्रस्तुतीकरण तैयार कर अगले सप्ताह प्रस्तुत किया जाए। उन्होंने सम्बंधित एजेन्सी को निर्देश दिए कि विभिन्न हितधारकों के समूहों तथा अन्य सम्बंधित व्यक्तियों/संस्थाओं/संगठनों आदि से सुझाव प्राप्त कर उनका प्लान में समावेश सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी तथा उपाध्यक्ष बीडीए के साथ सम्बंधित एजेन्सी बैठक कर आज जो भी सुझाव प्राप्त हुए हैं उन पर अग्रिम कार्यवाही कर अगले सप्ताह उन्हें रिपोर्ट प्रस्तुत करें। जिलाधिकारी श्री शिवाकान्त द्विवेदी ने बरेली में मेंथा के उत्पादन तथा विक्रय से जुड़े विषयों पर विस्तृत कार्य योजना तैयार करने तथा पर्यावरण से सम्बंधित समस्याओं के समाधान को भी प्लान में शामिल करने को कहा। उन्होंने कहा कि बरेली में खाद्य प्रसंस्करण एवं कृषि आधारित विभिन्न प्रकार के उद्योगों तथा पर्यटन के विकास की अपार संभावनाएं है। बैठक में मेंथा के उत्पादन, विक्रय एवं निर्यात, सोलर एनर्जी, मेडिकल एवं शिक्षा हब, स्वर्णकारी, जरी जरदोजी, बांस बेंत, पतंग आदि के उत्पादन एवं इसके विपणन की समस्याओं एवं इनके समाधान पर भी विस्तार से चर्चा हुई।

 

 

बरेली से संपादक गोपाल चंद्र अग्रवाल,(राजू शर्मा ) की रिपोर्ट !

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: