दिशा रेपकांड का एनकाउंटर था फर्जी? आरिफ उर्फ अहमद, जोलू शिवा चिंताकुंतला चेन्नाकेशवुलु, जोलू नवीन का हुआ था फर्जी एनकाउंटर

यह घटना 27 नवंबर, 2019 को एक युवा पशु चिकित्सक के साथ दुष्कर्म और हत्या से संबंधित है। जहां युवती से रेप के बाद उसे जलाकर मार डाला गया था। इस घटना में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया था। इसके बाद उसी साल 6 दिसंबर को शादनगर के पास अपराध स्थल पर एक मुठभेड़ में चारों आरोपी मारे गए थे।

इनका हुआ था फर्जी एनकाउंटर

  1. मुख्य आरोपी मोहम्मद आरिफ उर्फ अहमद
  2. जोलू शिवा
  3. चिंताकुंतला चेन्नाकेशवुलु
  4. जोलू नवीन 

जस्टिस वीसी सिंह सिरपुरकर कमीशन ने दिशा रेप मामले के बाद हुए एनकाउंटर पर 387 पेज की एक रिपोर्ट सौंपी है. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि आरोपियों को फेक एनकाउंटर में मारा गया था. हैदराबाद में नवंबर 2019 में एक महिला वेटनरी डॉक्टर के साथ रेप की घटना हुई थी. उसके बाद उसकी हत्या भी कर दी गई थी. आरोपियों ने महिला का शव जली अवस्था में एक पुल के नीचे फेंक दिया था. घटना के बाद स्थानीय लोगों ने इसके विरोध में विरोध प्रदर्शन किया था.

एनकाउंटर में शामिल पुलिसकर्मी– वी सुरेंद्र, के. नरसिम्हा रेड्डी, शेख लाल मधर, मो. सिराजुद्दीन, कोचेरला रवि, के.वेंकटेश्वारुलु, एस अरविंद गौड, जानकीरमन, आरबालू राठौड, डी श्रीकंठ. रिपोर्ट में कहा गया है कि इनसे आईपीसी की धारा 302 के तहत पूछताछ होनी चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: