Bareilly News : जबाबी फायरिंग में देश का लाल हुआ शहीद

बरेली एक जांबाज लाल ने जम्मू के एलओसी पर जवानों से क्रॉस फायरिंग में अपनी जान को देश के लिए निछावर कर दिया

क्रॉस फायरिंग में शहीद हुए सिपाही सौरभ राणा का परिवार बरेली की फन सिटी में रहता है जहां जांबाज सौरभ राणा के शहीद होने के बाद घर में मातम छाया हुआ है और लोगों का घर पर आने का सिलसिला शुरू हो गया है । बरेली के सनसिटी विस्तार में रहने वाले सेना से रिटायर्ड कैप्टन राजकुमार राणा का परिवार रहता है और उनका बड़ा बेटा सौरभ राणा 2014 में फतेहगढ़ में राजपूत रेजीमेंट सेंटर में भर्ती हुए थे और भर्ती होने के बाद इन दिनों उनकी तैनाती एलओसी पर गुरेज सेक्टर में चल रही थी बताया जा रहा है कि रविवार को दोपहर में क्रॉस फायरिंग के दौरान दुश्मनों की गोली लगने से जांबाज सौरभ राणा शहीद हो गए शहीद होने की जैसे ही जानकारी सौरभ राणा के परिवार को हुई उसके बाद घर में मातम छा गया शहीद जवान सौरभ राणा के पिता राजकुमार राणा ने बताया कि वह खुद आर्मी में थे और उनको देखकर उनके बेटे ने दी आर्मी जॉइन कि उसके अंदर हौसला और जज्बा था और हर वक्त दुश्मनों से मुझे हटा लेने के लिए तैयार रहता था पर कल रविवार को क्रॉस फायरिंग में उनके बेटे सौरव राणा ने देश के लिए अपने प्राण निछावर कर दिए उन्हें गर्व भी है कि बेटे ने देश के लिए । अपने प्राण निछावर किए हैं पर बेटे के शहीद होने के बाद पिता का रो रो के बुरा हाल है इतना ही नहीं सहित सौरभ राणा की मां और एक छोटा भाई पत्नी और दो बच्चे हैं क्रॉस फायरिंग में शहीद हुए बरेली के लाल सौरभ राणा के दोस्त और रिश्ते के भाई गौरव सिसोदिया कहते हैं कि वह शुरू से ही आर्मी में जाना चाहते थे जिसके लिए उन्होंने 2014 में आर्मी जॉइन की और जब भी छुट्टी से लौट कर आते अपने जाबाजी के किस्से सुनाया करते थे अब उनके शहीद होने से उनकी शहादत पर हमें गर्व भी है और दुखी हो रहा है, शहीद सौरभ राणा के परिवार में उसकी दादी गायत्री देवी पिता राजकुमार राणा माता कुसुम पत्नी संध्या और 7 वर्षीय बेटा रुद्र और एक 4 वर्षीय हर्ष बेटा है। शहीद के परिवार वालों का कहना है कि सौरभ राणा के शहीद होने के बाद अभी तक बरेली जिला प्रशासन का कोई भी अधिकारी उनके आ नहीं पहुंचा है जबकि उनके बेटे ने देश के लिए अपनी जान को निछावर किया है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: