पंजाब के लिए ये क्या कह गए भज्जी

 

1864413-NEW

टीम इंडिया के पूर्व स्पिनर हरभजन सिंह ने मंगलवार को पंजाब के युवाओं, गायकों और किसानों को एक संदेश दिया । हरभजन सिंह ने शहीद-ए-आजम भगत सिंह को श्रद्धांजलि देते हुए पांच मिनट 9 सेकेंड के एक वीडियो संदेश भी रिलीज की गई । उन्होंने वीडियो के माध्यम से लोगों को युवा पीढ़ी को संभालने, पानी दूषित होने से बचाने तथा पंजाबी भाषा में लचर गायकी के चलते आ रही गिरावट को रोकने में अपना बनता सहयोग देने की अपील की।

हरभजन ने बताया कि IPL ऑक्शन से पहले मुंबई इंडियन टीम के लीडर्स ने मुझसे खेलने के बारे में पूछा था। उन्होंने मुझे अपनी भूमिका के बारे में स्पष्ट करने के लिए कहा था। मुंबई इंडियंस टीम अगले तीन सालों की प्लानिंग को लेकर यंगस्टर्स की टीम तैयार कर रही है क्योंकि अभी मैं खेलना चाहता था इस लिए मैंने खुली ऑक्शन को चुना, जिसमें चेन्नई सुपर किंग्स ने मुझे खरीदा।

HARBHAJAN-NEW

अब 7 अप्रैल से शुरू हो रहे आईपीएल में चेन्नई की तरफ से खेलने पर पूरा फोकस रहेगा। हरभजन ने कहा कि पंजाब में क्रिकेट टैलेंट की भरमार है लेकिन मौके सीमित हैं। जो क्रिकेटर डिस्ट्रिक्ट एसोसिएशन की तरफ से खेलता है वही आगे निकलता है।

कई बार अच्छे टैलेंट को इग्नोर भी किया जाता रहा है। लेकिन धीर-धीरे चेंज हो रहा है। आज जरूरत है स्कूल क्रिकेट की। अच्छे खिलाड़ियों का टैलेंट जानने व पंजाब के क्रिकेट को उभारने के लिए स्कूल स्तर पर स्कूल क्रिकेट शुरू होनी चाहिए। हरभजन ने कहा कि प्रशिक्षण में ग्रेड लेवल शुरू करने से सिर्फ किताबी प्रशिक्षक ही सामने आएंगे। अपना उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि आज वह जिस मुकाम पर हैं उसमें उनके प्रशिक्षक का बड़ा योगदान है पर उनके प्रशिक्षक ने कोई कोचिंग डिप्लोमा या डिग्री नहीं की हुई थी। एक अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी जरूरी नहीं कि एक अच्छा प्रशिक्षक भी हो। एलबम रिलीज के दौरान हरभजन की पत्नी गीता बसरा और बेटी हिनाया आदि मौजूद थे। इस एलबम में एक ही गीत हैं। उन्होंने कहा कि वह शहर में स्पोर्ट्स सेंटर को लेकर केंद्रीय खेल मंत्री से भी मिलेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: