बिहार में एक ही परिवार के चार लोगों की मौत से दहशत, पांच अन्‍य का भी चल रहा इलाज

पटना : बिहार के सिवान जिले में विषाक्त भोजन या पानी (फूड प्वायजनिंग) के कारण एक परिवार के नौ सदस्‍य बीमार पड़ गए। उनमें चार की मौत हो गई, जबकि पांच का इलाज चल रहा है। घटना जिले के मैरवा स्थित मिसकरही गांव की मुस्लिम बस्ती में हुई।
पांचों बीमार का इलाज सीवान सदर अस्पताल में चल रहा है जहा पर सभी खतरे से बाहर बताये जा रहे हैं.एक ही परिवार के 4 लोगों की मौत हो जाने से घर में कोहराम मच गया. मैरवा प्रखंड के मिसकरही गांव की मुस्लिम बस्ती में शनिवार को ईद पर्व को लेकर काफी चहल पहल थी लेकिन एकाएक चार लोगों की मौत की सूचना मिलने पर मुहल्लेवासियों में सन्नाटा छा गया.
घटना के सम्बंध में बताया जाता है कि मिसकरही के इसराफिल अंसारी का परिवार 5 दिन पूर्व से इस बीमारी से ग्रसित था. बीमार लोगों की निजी क्लिनिक से लेकर सरकारी अस्पतालों में इलाज कराया गया मगर बीमारी कंट्रोल नहीं होने से दो की मौत सीवान तथा दो की मौत गोरखपुर में हो गयी.मृतकों में दो पुरुष तथा दो महिलायें शामिल हैं.

गंदा पानी पीने से बिगड़ी लोगों की तबीयत

सूचना मिलते ही मिसकरही मुहल्ले में मृतकों की संख्या बढ़ने पर जिला के एएसपी, एसडीओ तथा सिविल सर्जन डॉक्टरों की टीम के साथ मौके पर पहुंचे। चिकित्सा प्रभारी डाक्टर आर एन ओझा का कहना है कि सभी लोग डायरिया से पीड़ित थे। सभी मरीजों को उल्टी और लूज मोशन की शिकायत है। बीमारी की जांच के लिए जिले से चिकित्सकों की टीम भी बुलाई गई है। बताया जा रहा कि फूड प्वायजनिंग और गर्मी के कारण लोगों को परेशानी हुई है। मिली जानकारी के मुताबिक खाना खाने के बाद आरओ के जार वाला पानी पीने का बाद सभी की तबीयत बिगड़ने लगी। लालगंज में दो वाटर सप्लाई का भी मेडिकल टीम ने सैंपल लिया और जांच तक वाटर सप्लाई पर रोक लगाई है। इस घटना से आसपास के मोहल्ले में दहशत का माहौल बना हुआ है।

 

राजेश कुमार के साथ सोनू मिश्रा की रिपोर्ट ,पटना ( बिहार )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.