दरगाह शाहदाना वली के कुल में उमड़ा अकीदतमंदों का जन सैलाब

बरेली दरगाह शाहदाना वली के कुल में उमड़ा अकीदतमंदों का जन सैलाब उर्स-ए-शाहदाना वली र0अ0 के उर्स की तकरीबात बाद नमाजे़ फज्ऱ कुरआन ख्वानी से हुई। उसके बाद दरगाह पर अकीदतमंदों के हाजरी देने का सिलसिला गोलपोशी, चादरपोशी मज़ारे मुबारक पर की गई। बाद नमाजे़ जु़हर मीलाद-ए-पाक का नज़राना मस्जिद के इमाम मौलाना शुजात खां व राजू अज़हरी ने पेश कर सलातो सलाम बुजुर्गों को नज़र किया। बाद नमाजे़ अस्र महफिले समा में रंग शरीफ की रस्म अदायगी के साथ हज़रत शाहदाना वली र0अ0 की कुल शरीफ की रस्म अदा की। सूफी रिज़वान रज़ा तहसीनी ने मुल्क की खुशहाली तरक्की और कामयाबी के साथ आतंकवाद से मुल्के हिन्द को निजात देने के लिए खुसूसी दुआ की गई। दरगाह के मुतावल्ली अब्दुल वाजिद खां बब्बू मियां ने सभी का खैर मकदम कर शुक्रिया अदा किया और हाज़रीने महफिल को लंगर का तबर्रूक तकसीम किया गया। बाद नमाजे इशा महफिले सिमा में कव्वाल सलीम चिश्ती रामपुरी, आफताब पीलीभीती आदि ने कलाम पढ़े। देर रात तक महफिले जारी रही।कुल शरीफ में वसी अहमद वारसी, यूसुफ इब्राहीम, गफूर पहलवान, सलीम सुब्हानी, शिरोज़ सैफ कुरैशी, खलील कादरी, अब्दुल सलाम नूरी, जावेद खां, शारिक खां, सलीम रज़ा, हाजी नईम वारसी, हाजी अबरार खां आदि सहित बड़ी तादाद में अकीदतमंद मौजूद रहे।दरगाह के मीडिया प्रभारी वसी अहमद वारसी ने बताया कि कल दिनांक 03.07.2018 को बाद नमाजे अस्र लगभग शाम 05ः30 बजे हज़रत केले शाह बाबा के कुल शरीफ की रस्म अदा की जायेगी। रात में महफिले समा का आयोजन होगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.