हजरत सैयद बाबा के कुल शरीफ के साथ दरगाह शाहदना वली के उर्स का समापन

आज दरगाह शाहदाना वली रहमतुल्ला अलेह पर बात नमाज ए फज्र कुरानख्वानी की रस्म अदा की गई इसी कड़ी में वारसी सेवा समिति के उपाध्यक्ष पाशा मियां निजामी सचिव सैयद मास्टर इकबाल यूसुफ मीडिया प्रभारी सय्यद यावर अली ने मजार ए मुबारक पर चादरें लेकर पहुंचे गुलपोश ई करने के बाद दुआएं खैर की दरगाह के मीडिया प्रभारी वसी अहमद वारसी ने उनकी दस्तारबंदी कर मुबारकबाद दी उसके बाद औलामाए दिन मौलाना सुजात खान ने तकरीर में कहा कि हमें निस्बत है बुजुर्गों से हमारे बुजुर्ग और वलियों ने हक पर चलने की सीख दी है.

 

इस्लाम को समझना है तो पहले तालीम याअब हो तालीम और इल्म की रोशनी से ही इस्लाम नजर आता है इस्लाम में झूठों के लिए जगह नहीं क्योंकि इस्लाम हक पर चलने की सीख देता है उसके बाद ना तो मन कबत का नजराना पेश किया गया 10:00 बज कर 10:00 मिनट पर सैयद बाबा के कुल की रस्म अदा की गई दरगाह के मुतावल्ली अब्दुल वाजिद खान बब्बू मियां ने मुल्क में अम्मानो आमान व भाईचारे आतंकवाद को खत्म करने के लिए खुसूसी दुआ की उसके बाद कलियर से आए फनकार निजाम साबरी ने रंग शरीफ की रस्म अदा की इसी कड़ी में मीडिया प्रभारी वसी अहमद वारसी ने पुलिस प्रशासन वह नगर निगम दरगाह के खिदमतगार का शुक्रिया अदा करते हुए कहा है कि अल्लाह हमें हर साल सरकार शाहदाना वली का उर्स इसी तरह बनाने की तौफीक अता फरमाए.

इसी के साथ दरगाह शाहदाना वली पर चल रहे पांच रोज- उर्स का समापन हुआ उर्स में सहयोग करने वालों में यूसुफ इब्राहिम गफूर पहलवान सलीम सुभानी शीरोज सैफ कुरैशी खलील कादरी जावेद खान हनीफ मियां शानू गोसी परवेज खान अब्दुल सलाम नूरी भूरा साबरी आसिफ सकलैनी शारिक खान बसी अहमद वारसी आदि मौजूद रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.