बाल आश्रय ग्रह की घटनाओ को लेकर सपा ने निकाला कैंडिल मार्च

समाजवादी पार्टी बरेली की महिला सभा,और फ्रन्टल संगठनो ने बिहार में मुज़्ज़फर पुर ,और उत्तर प्रदेश के देवरिया बाल आश्रय ग्रह में हो रहा बालिकाओं के उत्पीड़न,और हरदोई की घटना के विरुद्ध ज़िला अध्यक्ष शुभलेश यादव के निर्देश पर सड़को पर उतरकर विरोध किया।

समाजवादी पार्टी कार्यालय से जिला महासचिव प्रमोद बिष्ट,ज़िला अधिवक्ता सभा के जिला अध्यक्ष प्रमोद यादवज़िला उपाध्यक्ष सतेन्द्र यादव ,ज़िला प्रवक्ता हैदर अली महिला सभा की जिला अध्यक्ष भारती चौहान, वैभव गंगवार, मोहित भारद्वाज, ह्रदेश यादव,मोहसीन खान,के नेतृत्व में पार्टी कार्यालय से सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता हाथो में स्लोगन तख्तियां लेकर अय्युब खान चौराहे के लिए निकले विशाल मेगामार्ट के सामने से होते हुए देश प्रदेश की सरकार के विरुद्ध नारे लगाते हुए अय्युब खान चौराहे पर पहुँचे जहां पर पार्टी के जिला महासचिव प्रमोद बिष्ट ने कार्यकर्ताओ को संबोधित करते हुए कहा की देश और प्रदेश के मुखिया स्वम् को प्रधान सेवक कहते है परंतु आज देश का हर वर्ग निराश परेशान है महिला सुरक्षा के नाम पर यह सरकार पूर्णतया विफल साबित हुई है।

आज महिलाएं यहां तक कि छोटी बच्चियां भी घर से निकलते हुए भयभीत है।ज़िला उपाध्यक्ष यह घटनाये समाज के लिए कलंक है जो भी लोग इस दुष्कर्म में शामिल है चाहे वो कोई भी हो राजनीतिक, अधिकारी जो भी हो उसके विरुद्ध कठोर कार्यवाही करने से सरकार क्यों बच रही है।ऐसे नरपिशाचों के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही होना चाहिए ,प्रमोद यादव एडवोकेट ने कहा की भाजपा सरकार ने नारा दिया कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ जब बेतिया बचेगी ही नही तो पड़ेगी कैसे।

ज़िला प्रवक्ता हैदर अली ने कहा जो सरकार महिला सुरक्षा के बड़े बड़े दावे करती थी पर जितने बलात्कर, और महिला उत्पीड़न इस सरकार में हो रहा है ऐसा कभी नही हुआ उत्तर प्रदेश सरकार के मुखिया कन्या पूजन के फोटो तो जनता को दिखाते है पर उनके प्रदेश में कन्याएं सुरक्षित ही नही है।भारती चौहान ने भी मुज़्ज़फर पुर,और देवरिया की घटना पर रोष प्रकट किया।

आज के कार्यक्रम में मुख्य रूप से ज़िला महासचिव प्रमोद बिष्ट,ज़िला अधिवक्ता सभा के अध्यक्ष प्रमोद यादव एडवोकेट, ज़िला उपाध्यक्ष सतेन्द्र यादव,ज़िला व शमीम खां सुल्तानी, अरुण यादव,गौरव यादव,उषा यादव,इन्द्रपाल नन्दा, नागेन्द्र कुमार, जगवीर यादव एडवोकेट, रुचिन कपूर एडवोकेट अशोक यादव,नीतू भारती,कृति पाल सिंह एडवोकेट,उवैस खान,अमित गंगवार,प्रवीण जायसवाल, दानिश, सुजीत भारती,विशाल शर्मा,द्रोण कश्यप,सय्यद असद अली,निहाल सिंह,मयंक शुक्ला मोंटी, सुनेरल,मतलूब, शाहबुद्दीन, अभिषेक, पवन आदि प्रमुख थे।सभी कार्यकर्ता काली पट्टी बांधे हुए थे मोमबत्तियां अय्युब खान चौराहे पर जलाकर लापता बच्चियों के शीघ्र मिलने की प्राथना की व मोदी और योगी सरकार को बर्खास्त करने की मांग।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.