बम के धमाकों से और गोलियों की तड़तड़ाहट से सहम उठा पटना का अशोक राजपथ

पटना : पटना के पीरबहोर थाना अंतर्गत पटना कॉलेज के सामने वाली गली में हॉस्टल के छात्रों द्वारा ताबड़तोड़ बमबाजी करते हुए गोलीयां भी चलाई गई । जिसके कारण पूरे इलाके में दहशत का माहौल बन गया । लोग जहां थे वही दुबक कर छिपे रहे । वही आने और जाने वाले रास्ते के किनारे लगी हुई कई चार पहिया वाहन के शीशे बम के धमाके से छतिग्रस्त हो गयी।

आपको बता दें कि स्थानीय लोगों के द्वारा पता चला है कि यह लड़ाई विश्वविद्यालय के इकवाल हॉस्टल और स्थानीय बी एम दास के एनी बेसेंट रोड के रहने वाले स्थानीय युवकों के बीच लड़की के विवाद को लेकर पिछले बुधवार को बी एम दास रोड के एक कोचिंग के समीप नोकझोंक पहले भी हो चुकी थी ।

और उसी बात को लेकर आज देर रात पास के ही पानी प्लांट के समीप इन लोगों की भिड़ंत हो गई थी । इस भिड़ंत के बाद इकबाल हॉस्टल के लड़के बड़ी संख्या में आएं और फिर तोड़फोड़ शुरू कर दिया। स्थानीय लोगों का कहना है कि अचानक ताबड़तोड़ बम और गोलीयो की आवाज से सभी लोग घबरा गए।

लगातार बम और गोलियां चलाते हुए कुछ युवक सड़कों पर बढ़ते जा रहे थे । वहीं स्थानीय लोगों ने कहा कि इस घटना को इकबाल छात्रावास के छात्रों ने अंजाम दिया है। आज की घटना पर एक स्थानीय व्यक्ति ने कहा कि सड़क पर लगी जितनी भी गाड़ियां थी सभी गाड़ियों को तोड़ा गया 4 राउंड गोली चलाई गई। उपद्रव इतना भयानक था की इस रोड में कई सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं अगर प्रशासन उन सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को बढ़िया से देखे तो उन सभी लड़कों को गिरफ्तार किया जा सकता है ।

वहीं स्थानीय लोगों ने कहा कि लगभग एक घंटा उन लड़कों ने सरेआम सड़कों पर हंगामा बाजी गोलीबारी और बमबाजी किया इस बीच पुलिस को भी फोन किया गया पर पुलिस मौके वारदात पर 1 घंटे बाद पहुंचती है। स्थानीय लोगों ने तो इतना तक कह दिया कि पटना पुलिस झूठा दावा करती हैं कि हमारा 100 नंबर दुरुस्त है। पर आज जब इस नंबर पर बार-बार फोन किया गया। फिर भी यह नंबर नहीं लगा और जब पुलिस को इसकी सूचना दी गई तो पुलिस भी सारी वारदात खत्म होने के बाद घटना के 1 घंटे बाद मौके वारदात पर पहुंचती है। आपको बता दें कि मौके वारदात पर पीरबहोर थाना अध्यक्ष गुलाम सरवर अपने पूरे लाव लश्कर के साथ पहुंचे ।

पूछताछ में उन्होंने कहा कि लड़को की पहचान सीसीटीवी कैमरे की मदद से की जा रही है। और हम लोग उसी की गिरफ्तारी में जा रहे हैं। वहीं बमबाजी और गोलीबारी की पुष्टि थाना अध्यक्ष गुलाम सरवर ने नहीं किया। वहीं स्थानीय लोगों ने कहा कि वहां आए दिन इकबाल छात्रावास के छात्रों के द्वारा अपनी वर्चस्वता कायम रखने के लिए इस तरह की घटना को अंजाम दिया जाता है।

इस घटना के द्वारा साफ तौर से पता चलता है कि छात्रों की वर्चस्व की लड़ाई को लेकर पटना कॉलेज के आस-पास के क्षेत्रों में इन दिनों गोलीबारी और बमबाजी आम हो गई है । छात्रों की हिम्मत अब इतनी बढ़ गई है कि दिनदहाड़े गोलीबारी और बम बाजी शुरू कर दी गई है। पटना कॉलेज के सामने वाली गली में बमबाजी और ताबड़तोड़ गोलियां चलाना इसका मिसाल है. |

 

राजेश कुमार के साथ रॉबिन कुमार की रिपोर्ट ,पटना (बिहार)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.